top of page
Post: Blog2_Post

जोड़ों के दर्द और सूजन से पाना चाहते हैं छुटकारा ? तो रोजाना इस्तेमाल करें एक्सेल हर्बल रिलीफ दर्द आयल |

आज के समय में शायद ही ऐसा व्यक्ति हो जिसे शरीर में किसी प्रकार का दर्द या बीमारी ना हो घुटने और कमर दर्द जैसे समस्याएं पहले 50 साल की उम्र के बाद ही होती थी लेकिन आजकल के खान-पान और कार्य प्रणाली के कारण कम आयु में ही यह समस्या सामने आ रहे हैं इन समस्याओं जैसे घुटनों का दर्द कमर दर्द सर्वाइकल हाथ पांव में सूजन को दूर भगाने के लिए एक्सेल पेन लीफ तेल काफी लाभदायक है |

एक्सेल pain oil में आठ प्रकार की दुर्लभ जड़ी बूटियां शामिल हैं जैसे गधपुरा तेल, नीलगिरी तेल ,अरंडा तेल , तिल तेल ,पुदीना फुल ,कपूर और अज़ोवन तेल शामिल है यह सभी प्रकार के तेल जोड़ों में गरमाहिट और सूजन को कम करने में कारगिर है |


  • तिल तेल में ओमेगा 3 फैटी एसिड कॉपर, जिंक, कैल्शियम, मैग्नीशियम ,प्रोटीन जैसे तत्व पाए जाते हैं ऐसे में इस तेल से हड्डियों की मालिश करने से आपकी हड्डियों में मजबूती मिलती है | तिल के तेल को इस्तेमाल करने से जोड़ों में गर्माहट बनी रहती है

  • गांधपुरा तेल में टेल पेट्रा एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर मांसपेशियों में दर्द और सूजन को कम करता है| गधपुर का तेल सबसे बड़ा लाभ शरीर के दर्द का इलाज करने की इसी क्षमता है यह दर्द निवारक और सूजन रोधी गुन से भरपूर है जो मांसपेशियों की जकड़न और जोड़ों की सूजन से राहत मिलती है |




नीलगिरी तेल :- नीलगिरी तेल से मांसपेशियों का दर्द फाइब्रोसिस और यहां तक की नर्व पेन में भी नीलगिरी तेल का काफी उसे किया जाता है यह ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाने के साथ-साथ ही दर्द से राहत देता है रिसर्च स्टडी के अनुसार घुटनों का प्रत्यारोपण करने वाले मरीजों में सूजन दर्द और इन्फ्लेमेशन को दूर करने के लिए इस तेल का इस्तेमाल किया जाता है साथ में ही नीलगिरी का तेल मांसपेशियों में मूवमेंट को बढ़ाता है |


कपूर तेल हड्डियों के जोड़ों में लुब्रिकेशन कम होने से जोड़ों में और हाथ पांव में जॉइंट्स में तेज दर्द होता है जोड़ों में दर्द को दूर करने के लिए कपूर के तेल को इस्तेमाल किया जाता है

अरंधा तेल :-अरंधा तेल में मौजूद गुण शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होते हैंअरंधा तेल में एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं जो शरीर में होने वाले दर्द खासतौर से जोड़ो और हड्डियों में दर्द को दूर करने में मदद करते हैं अर्थराइटिस या गठिया से लेकर कमर दर्द सर्वाइकल और चोट आदि लगने पर होने वाले दर्द में अरंधा तेल तेल इस्तेमाल किया जाता है |


अज़ोवन तेल :- जोड़ों के दर्द या मांसपेशियों में खिंचाव आने पर आप अजवाइन तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं | बॉडी मसाज के लिए भी एक्सेल हर्बल क्विक रिलीफ ऑयल का इस्तेमाल किया जाता है बॉडी का दर्द दूर होगा और बेहद आराम मिलेगा|


इस्तेमाल करने का तरीका :- दिन में दो बार एक्सेल पेन राहत तेल को दर्द वाली स्तर पर लगे और 5 मिनट के लिए अच्छी तरह से मालिश करें हवा लगने से हवा लगने की दर से आप जोड़ों का मदद में गर्म पट्टी का इस्तेमाल भी कर सकते हैं |रात के समय में एक्सेल पेन ऑयल को जरूर इस्तेमाल करें क्योंकि रात के समय में हमारी पूरी शरीर आराम व्यवस्था में होता है जिससे चलने वाले ब्लड सर्कुलेशन और दर्द ठीक होने में यह तेल काफी फायदेमंद रहता है |



56 views1 comment

1 Comment

Rated 0 out of 5 stars.
No ratings yet

Add a rating
Rated 5 out of 5 stars.

Nice

Like
bottom of page